(Sansmaran) - संस्मरण


संस्मरण (Sansmaran)

कृति कृतिकार
अनुमोदन का अंत (1905 ई०) सभा की सभ्यता (1907 ई०) महावीर प्रसाद द्विवेदी
हरिऔध जी का संस्मरण बालमुकुंद गुप्त
शिकार (1936 ई०) बोलती प्रतिमा (1937 ई०), भाई जगन्नाथ, प्राणों का सौदा (1939 ई०), जंगल के जीव (1949 ई०) श्रीराम शर्मा
लाल तारा (1938 ई०), माटी की मूरतें (1946 ई०), गेहूँ और गुलाब (1950 ई०) जंजीर और दीवारें (1955 ई०), मील के पत्थर (1957 ई०) रामवृक्ष बेनीपुरी
अतीत के चलचित्र (1941 ई०), स्मृति की रेखाएँ (1947 ई०), पथ के साथी (1956 ई०), क्षणदा (1957 ई०), स्मारिका (1971 ई०) महादेवी वर्मा
तीस दिन : मालवीय जी के साथ (1942 ई०) रामनरेश त्रिपाठी
हमारे आराध्य (1952 ई०) बनारसीदास चतुर्वेदी
जिंदगी मुस्काई (1953 ई०), दीप जले शंख बजे (1959 ई०), माटी हो गई सोना (1959 ई०) कन्हैयालाल मिश्र 'प्रभाकर'
ये और वे (1954 ई०) जैनेंद्र
बचपन की स्मृतियाँ (1955 ई०), असहयोग के मेरे साथी (1956 ई०), जिनका मैं कृतज्ञ (1957 ई०) राहुल सांकृत्यायन
मंटो : मेरा दुश्मन (1956 ई०), ज्यादा अपनी कम परायी (1959 ई०) 'अश्क'
वट-पीपल (1961 ई०) 'दिनकर'
समय के पाँव (1962 ई०) माखन लाल चतुर्वेदी
नए-पुराने झरोखे (1962 ई०) 'बच्चन'
दस तस्वीरें (1963 ई०), जिन्होंने जीना जाना (1971 ई०) जगदीश चंद्र माथुर
वे दिन वे लोग (1965 ई०) शिवपूजन सहाय
कुछ शब्द : कुछ रेखाएँ (1965 ई०) विष्णु प्रभाकर
चेतना के बिंब (1967 ई०) नगेंद्र
जिनके साथ जिया (1973 ई०) अमृत लाल नागर
स्मृतिलेखा (1982 ई०) 'अज्ञेय'